PM Awas Yojana नए नियम जान लें वरना नहीं मिलेगा घर

PM Awas Yojana: जैसा की आप सभी जानते ही है पीएम आवास योजना की शुरुवात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा की गयी है। इस योजना के माध्यम से गरीब परिवार के नागरिकों को सरकार पक्के घर उपलब्ध करवाती है। आपको बता दें पीएम आवास योजना के तहत सरकार द्वारा नियमों में कुछ बदलाव किये गए है इसमें कुछ नए नियमों को बनाया गया है। योजना के तहत जो भी नागरिक इस योजना के तहत पक्के मकान पाने के लिए आवेदन कर चुके है उन्हें इन नियमों की जानकारी होनी आवश्यक है तभी वह पक्के मकान प्राप्त कर पाएंगे।

योजना के माध्यम से सरकार शहर व गांव में रह रहे गरीब परिवार के नागरिक जो अपना जीवन झुग्गी बस्तियों में रह कर काट रहे है उन्हें पक्के मकान उपलब्ध करवाकर सुविधा प्रदान करना है। इसकी शुरुवात सरकार ने 25 जून 2015 में की थी।

जानिए पीएम आवास से जुड़े नए नियमों को

पीएम आवास योजना के तहत बनाये गए नए नियमों के मुताबित यदि नागरिक को पीएम आवास अलॉट (आवंटित) हुए है तो उन्हें इनमे 5 साल तक रहना अनिवार्य है अन्यथा आपका आवंटन निरस्त (कैंसिल) कर दिया जायेगा। यदि नागरिक चाहते है की उनका आवास कैंसल न हो तो उन्हें 5 साल रहना आवश्यक है। इससे इस योजना के अंतर्गत चलने वाला फ्रॉड भी खत्म हो जायेगा और यह नागरिकों के लिए बहुत ही उपयोगी और इफेक्टिव (प्रभावी) होगा।

आपको बता दें योजना के माध्यम से अभी तक जितने भी लोगों को घर उपलब्ध करवाएं जा रहे है उसमे एग्रीमेंट टू लीज करवाया जा रहा है यानी यह किसी प्रकार की रजिस्ट्री नहीं होगी। इसमें केवल नागरिक को 5 साल तक रहना होगा। यदि कोई नागरिक 5 साल तक का एग्रीमेंट नहीं एक्सेप्ट करता तो उसका आवास कैंसिल कर दिया जायेगा और यदि वह 5 साल तक रहते है तो एग्रीमेंट टू लीज को लीज़ डीड में बदल दिया जायेगा। यह नियम सिर्फ गांव में रहने वाले नागरिकों के लिए बनाया गया है।

नहीं होंगे यह नियम पीएम आवास शहरी नागरिकों के लिए

योजना के तहत शहरी क्षेत्रों के नागरिकों को भी 5 साल के लिए आवास प्रदान किया जाता है परन्तु 5 साल रहने के बावजूद उन्हें लीज डीड नहीं मिलती। नागरिकों को आगे भी उसी अनुसार ही रहना होगा। यह घर फ्री होल्ड नहीं होंगे। अगर आवेदक पीएम आवास का उपयोग किसी अन्य काम के लिए उपयोग करता है तो उसका घर का एग्रीमेंट रद्द हो जायेगा और साथ ही लाभार्थी द्वारा जमा की गयी राशि भी उसे प्रदान नहीं की जाएगी।

यदि किसी परिवार के लाभार्थी की मृत्यु होती है तो ऐसी स्थिति में सरकार द्वारा उसके परिवार या सदस्य को लीज ट्रांसफर की जाएगी यानि यह एग्रीमेंट निर्धारत समय की अवधि तक चलता रहेगा।

क्यों शुरू किये गए PM Awas Yojana हेतु यह नियम

जैसा की आप जानते है कि देश में लोग फ्रॉड करने में पीछे नहीं हटते है ऐसे में इन नियमों के मुताबित फ्रॉड ख़त्म हो जायेगा और पात्र लोगों को उनके घर मिल सकेंगे। इन नियमों के जरिये उन सभी लोगों पर लगाम लगेगी जो घरों को किराये या अन्य काम के लिए दे देते है परन्तु अब जिन जरुरत मंद लोगो को घर की आवश्यकता होगी उन्हें घर मिल पाएंगे।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट को www.nvsrobhopal.com बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment